0
खूब पहचान लो असरार हूँ मै - मजाज़ लखनवी
खूब पहचान लो असरार हूँ मै - मजाज़ लखनवी

खूब पहचान लो असरार हूँ मै जीन्स-ए-उल्फत का तलबगार हूँ मै इश्क ही इश्क है दुनिया मेरी फितना-ए-अक्ल से बेज़ार हूँ मै छेड़ती है जिसे मिज...

Read more »

0
इक दिन ऐसा भी आएगा होंठ-होंठ पैमाने होंगे - बेकल उत्साही
इक दिन ऐसा भी आएगा होंठ-होंठ पैमाने होंगे - बेकल उत्साही

आज बेकल उत्साही साहब को जन्नतनशी हुए एक बरस हो गया वो आज ही के दिन पिछले बरस 03 दिसम्बर 2016 को मृत्यु को प्राप्त हुए थे | उन्हें याद कर...

Read more »

0
बाल सँवारे मांग निकाले - मोहम्मद दीन तासीर
बाल सँवारे मांग निकाले - मोहम्मद दीन तासीर

बाल सँवारे मांग निकाले, दुहरा तेरा अचल डाले, नाक पे बिंदी कान में बाले, जग-मग जग-मग करनेवाले | माथे पे चन्दन का टीका, आँख में अनजान ...

Read more »

0
मोहम्मद दीन तासीर परिचय
मोहम्मद दीन तासीर परिचय

दी न मोहम्मद तासीर ( Mohd Deen Taseer )  28 फरवरी 1902 को अजनाला पंजाब में जन्मे | डॉ. एम. डी. तासीर नाम से भी जाने जाते है | आपके पिताजी ...

Read more »

0
 बतलाते हैं सारे मंज़र ख़ुश हैं सब -  राज़िक़ अंसारी
बतलाते हैं सारे मंज़र ख़ुश हैं सब - राज़िक़ अंसारी

बतलाते हैं सारे मंज़र ख़ुश हैं सब अन्दर से है टूटे बाहर ख़ुश हैं सब देख लो अपनी प्यास छुपाने का अंजाम बोल रहा है एक समन्दर ख़ुश हैं सब...

Read more »

0
अब आप चलो तुम अपने बोझ उठाए - जमीलुद्दीन आली
अब आप चलो तुम अपने बोझ उठाए - जमीलुद्दीन आली

जमीलुद्दीन आली भारत में जन्मे ( 20 जनवरी 1925 ) और पाकिस्तान में मृत्यु को प्राप्त हुए | मशहूर शायर थे | बीमारी के चलते आज ही के दिन ( 23 न...

Read more »
 
 
Top