0
माँ के घर जब सभी बेटियाँ आ गईं - डॉ. जियाउर रहमान जाफरी
माँ के घर जब सभी बेटियाँ आ गईं - डॉ. जियाउर रहमान जाफरी

फूल खुशबू चमक तितलियां आ गईं माँ के घर जब सभी बेटियाँ आ गईं जा के अंदाज़ ताकत का फिर लग गया जब बगावत में सब लड़कियां आ गईं मुझको उस पार...

Read more »

0
मुहम्मद अली जौहर परिचय
मुहम्मद अली जौहर परिचय

मुहम्मद अली जौहर की पैदाइश 1878 में हुई थी । उनका ख़ानदान बिजनौर का था लेकिन ग़दर के बाद मुरादाबाद आ बसे थे। जब दो.साल के थे वालिद साहब का...

Read more »

1
ऐ नए साल बता- फैज़ अहमद फैज़
ऐ नए साल बता- फैज़ अहमद फैज़

ऐ नए साल बता, तुझमें नयापन क्या है हर तरफ़ ख़ल्क़ ने क्यूँ शोर मचा रक्खा है रौशनी दिन की वही, तारों भरी रात वही आज हम को नज़र आती है हर इक...

Read more »

0
ग़रीब-ख़ाना हमेशा से जेल-ख़ाना है  - सय्यद ज़मीर जाफरी
ग़रीब-ख़ाना हमेशा से जेल-ख़ाना है - सय्यद ज़मीर जाफरी

ग़रीब-ख़ाना हमेशा से जेल-ख़ाना है मिरा मिज़ाज लड़कपन से लीडराना है इलाही ख़ैर दिल-ए-ज़ार ओ ना-तवान की ख़ैर कि आज उन का हर अंदाज़ हिटलरा...

Read more »

0
दिल पर मेरे निशान हैं ये सब नये नये - राज़िक़ अंसारी
दिल पर मेरे निशान हैं ये सब नये नये - राज़िक़ अंसारी

दिल पर मेरे निशान हैं ये सब नये नये तरकश में रोज़ तीर हैं साहब नये नये हमने तो सब के सामने रख दी है अपनी बात दिन भर निकाले जाएंगे मतलब ...

Read more »

0
खूब पहचान लो असरार हूँ मै - मजाज़ लखनवी
खूब पहचान लो असरार हूँ मै - मजाज़ लखनवी

खूब पहचान लो असरार हूँ मै जीन्स-ए-उल्फत का तलबगार हूँ मै इश्क ही इश्क है दुनिया मेरी फितना-ए-अक्ल से बेज़ार हूँ मै छेड़ती है जिसे मिज...

Read more »
 
 
Top