2
Loading...



नशा पिला के गिरना तो सबको आता है
मजा तो जब है की गिरतो को थाम ले साकी

जो बादाकश थे पुराने वो उठते जाते है
कही से आबे-बकाए-दवाम ले साकी

कटी है रात तो हंगामा गस्तरी में तेरी
सहर करीब है अल्ला का नाम ले साकी -अल्लामा इक़बाल
मायने
बादाकश=पीने वाले, आबे-बकाए-दवाम=अमृत

Roman

Nasha pila ke girana to sabko aata hai
maja to jab hai ki girto ko tham le saki

jo badakash the purane wo uthte jate hai
kahi se aabe-bakaye-dawam le saki

kati hai rat to hangama gastari me teri
sahar kareeb hai allah ka naam le saki - Allama Iqbal
loading...

Post a Comment

 
Top