0
दीन मोहम्मद तासीर ( Mohd Deen Taseer ) 28 फरवरी 1902 को अजनाला पंजाब में जन्मे | डॉ. एम. डी. तासीर नाम से भी जाने जाते है | आपके पिताजी मियां अत्ता उद्दीन आपके बचपन में ही आपको छोड़ कर अल्लाह को प्यारे हो गए | 

आपको आपके मामूजान मियां निजामुद्दीन ने लाहौर में पाला | आप अल्लामा इकबाल के बचपन के दोस्तों में से थे | 
Mohd Deen Taseer
आपने अपना साहित्यिक सफर साहित्यिक पत्रिका कारवां से  1933 में शुरू किया | अपना स्नाकोत्तर करने के बाद आप पंजाब यूनिवर्सिटी में असिस्टेंट प्रोफ़ेसर के पद पर पदस्थ हुए | और उसी समय इक़बाल के समर्थन के साथ अंग्रेजी साहित्य में P.H.D. करने के लिए केम्ब्रिज विश्विद्यालय गए | 

1935 में लन्दन से वापसी के बाद आपने अमृतसर में मुस्लिम एंग्लो ओरिएंटल (M.A.O) कालेज में प्राचार्य पद पर कार्य किया | आप फैज़ अहमद फैज़ के साथ प्रगतिशील लेखक संघ शुरू करने वाले संस्थापकों में से एक थे  |

सन 1937 में आपको एक ब्रिटिश पर्यटक Chistobel George से प्रेम हुआ और 1938 में आपने शादी कर ली | अल्लामा इकबाल ने ही आप लोगो का निकाहनामा लिखा था | Chistobel George  ने मुस्लिम धर्म अपनाया और बल्कीस तासीर नाम अपनाया | आपको यह भी बता दे Chistobel George  की बहन Alys Faiz ने फैज़ अहमद फैज़ से शादी की |

1941 में आप श्रीनगर में श्री प्रताप कालेज के प्राचार्य बने | और 1942 में अमर सिंह कालेज के संस्थापक प्राचार्य बने | 

हिन्दुस्तान और पाकिस्तान के बटवारे के बाद आप पाकिस्तान चले गए और वहा लाहौर में इस्लामिया कालेज के प्राचार्य के रूप में कार्य किया | 

आपका नाम उर्दू साहित्य में बड़े अदब के साथ लिया जाता है | सीधी साधी भाषा के साथ भावो की उड़ान दिखने में आपको महारत हासिल था | भाषा को आप व्याकरण और प्रथा की बेडियो में बांधने की बजाय ध्वनि और संगीत की जंज़ीरो में बांधना अधिक पसंद करते है और इसके लिए हिंदी तो दूर यदि ठेठ पंजाबी भाषा का मुहावरा प्रयोग करना पड़े तो भी नहीं झिझकते | रस, मिठास और संगीत में आपकी कविताये डूबी होती है | 

सन 1950 में 47 वर्ष की उम्र में दिल का दौरा पड़ने के कारण आपकी मृत्यु हुई |

Post a Comment

 
Top