0
वो भी क्या लोग थे आसान थी राहें जिनकी - आले अहमद सुरूर
वो भी क्या लोग थे आसान थी राहें जिनकी - आले अहमद सुरूर

वो भी क्या लोग थे आसान थी राहें जिनकी बन्द आँखें किये इक सिम्त चले जाते थे अक़्ल-ओ-दिल ख़्वाब-ओ-हक़ीक़त की न उलझन न ख़लिश मुख़्तलिफ़ जलवे निगाह...

Read more »

1
जो था वो न था- परवेज़ वारिस
जो था वो न था- परवेज़ वारिस

सिर्फ धोखा था कोई तेरा कि जो था वो न था मैंने सोचा था तुझे जैसा कि जो था वो न था मंजिलो की जुस्तजू में घर से मै निकला मगर था सभी कुछ ठी...

Read more »

0
वो ख़ुश्बू बदन थी - स्वप्निल तिवारी आतिश
वो ख़ुश्बू बदन थी - स्वप्निल तिवारी आतिश

वो ख़ुश्बू बदन थी मगर ख़ुद में सिमटी सी इक उम्र तक यूँ ही बैठी रही बस इक लम्स की मुन्तज़िर उसे एक श...

Read more »

0
हर एक धडकन अजब आहट- अब्दुल अहद साज़
हर एक धडकन अजब आहट- अब्दुल अहद साज़

हर एक धडकन अजब आहट परिंदों जैसी घबराहट मिरे लहजे में शीरीनी मिरी आँखों में कड़वाहट मिरी पहचान ...

Read more »

2
गाँव हमारा डूब गया- परवेज़ मुजफ्फर
गाँव हमारा डूब गया- परवेज़ मुजफ्फर

Parvez Muzaffar एक-एक मस्जिद, सारे मंदिर, हर गुरुद्वारा डूब गया बिजली घर का बाँध बना तो गाँव हमा...

Read more »

0
कितना अच्छा था वह बचपन - अतीक इलाहाबादी
कितना अच्छा था वह बचपन - अतीक इलाहाबादी

उनके आँगन बरसा सावन गिनना छोडो दिल की धडकन उसके आंसू मेरा दामन गम है लाज़िम कैसी उलझन उनके चर्चे ...

Read more »

1
एक क़तरा मलाल भी बोया नहीं गया  - फरहत अब्बास शाह
एक क़तरा मलाल भी बोया नहीं गया - फरहत अब्बास शाह

एक क़तरा मलाल भी बोया नहीं गया वोह खौफ था के लोगों से रोया नहीं गया यह सच है के तेरी भी नींदें उजड़...

Read more »
 
 
Top