0
चाँद सितारों से क्या पुछूँ कब दिन मेरे फिरते हैं- आबिद अली आबिद
चाँद सितारों से क्या पुछूँ कब दिन मेरे फिरते हैं- आबिद अली आबिद

चाँद सितारों से क्या पुछूँ कब दिन मेरे फिरते हैं वो तो बेचारे ख़ुद हैं भिखारी डेरे डेरे फिरते हैं जिन गलियों में हम ने सुख की सेज पे राते...

Read more »

0
आपके दिल ने हमें आवाज दी, हम आ गए- पयाम सईदी
आपके दिल ने हमें आवाज दी, हम आ गए- पयाम सईदी

आपके दिल ने हमें आवाज दी, हम आ गए हमको ले आई मोहब्बत आपकी, हम आ गए अपने आने का सबब हम क्या बताए आपको बैठे बैठे याद आई आपकी, हम आ गए हम...

Read more »

0
क्यों ये समझू वो अब पराया है
क्यों ये समझू वो अब पराया है

क्यों ये समझू वो अब पराया है सिर्फ उसने मुझे गवाया है अब कि जब उसने शहर छोड़ दिया उस गली से गुजरना आया है इक तमाशा हू आज सबके लिए उसने इतना म...

Read more »

0
धुन ये है आम तेरी राहगुजर होने तक
धुन ये है आम तेरी राहगुजर होने तक

धुन ये है आम तेरी राहगुजर होने तक हम गुजर जाये जमाने को खबर होने तक मुझको अपना जो बनाया है, तो एक और करम बेखबर कर दे जमाने को खबर होने तक अब...

Read more »
 
 
Top