0
आँखों में जल रहा है क्यों बुझता नहीं धुआँ
आँखों में जल रहा है क्यों बुझता नहीं धुआँ

आँखों में जल रहा है क्यों बुझता नहीं धुआँ उठता तो है घटा सा बरसता नहीं धुआँ चूल्हा नहीं जलाए या बस्ती ही जल गई कुछ रोज हो गए है अब उठता...

Read more »

1
अदम गोंडवी और उनकी शायरी
अदम गोंडवी और उनकी शायरी

22 अक्टूम्बर 1947 को गोस्वामी तुलसीदास के गुरु स्थान सूकर क्षेत्र के करीब परसपुर (गोंडा) के आटा ग्राम में स्व. श्रीमती मांडवी सिंह एवं श्री ...

Read more »

1
नुकताची है गमे-दिल उसको सुनाए न बने
नुकताची है गमे-दिल उसको सुनाए न बने

नुकताची है गमे-दिल उसको सुनाए न बने क्या बने बात जहा बात बनाये न बने मै बुलाता तो हू उसको मगर ए जज्बा-ए-दिल उस पे बन जाए कुछ ऐसी की बिन आये ...

Read more »

0
धुप में निकलो घटाओ में नहाकर देखो -निदा फाजली
धुप में निकलो घटाओ में नहाकर देखो -निदा फाजली

धुप में निकलो घटाओ में नहाकर देखो जिंदगी क्या है किताबो को हटाकर देखो वो सितारा है चमकने दो यु ही आँखों में क्या जरुरी है उसे जिस्म बनाक...

Read more »

0
जो भी बुरा भला है अल्लाह जानता है - अख्तर शिरानी
जो भी बुरा भला है अल्लाह जानता है - अख्तर शिरानी

जो भी बुरा भला है अल्लाह जानता है, बंदे के दिल में क्या है अल्लाह जानता है। ये फर्श-ओ-अर्श क्या है अल्लाह जानता है, पर्दों में क्या छिपा...

Read more »

0
खुशी का मसअला क्या है जो मुझसे खौफ खाती है -अनवर जलालाबादी
खुशी का मसअला क्या है जो मुझसे खौफ खाती है -अनवर जलालाबादी

खुशी का मसअला क्या है जो मुझसे खौफ खाती है इसे जब भी बुलाता हू गमो को साथ लाती है चिरागों कब हवा की दोगली फितरत को समझोगे जलाती है यही त...

Read more »
 
 
Top