0
आगाज तो होता है, अंजाम नहीं होता
जब मेरी कहानी में वह नाम नहीं होता

जब जुल्फ की  कालिख में गुम हो जाये कोई राही
बदनाम सही, लेकिन, गुमनाम नहीं होता

हस-हस के जवा दिल के हम क्यों न चुने टुकड़े ?
हर शख्स की किस्मत में ईनाम नहीं होता- मीना कुमारी नाज़ 

Roman

aagaz to hota hai, anzam nahi hota
jab meri kahani me wah naam nahi hota

jab zulf ki kaalikh me gum ho jaye koi rahi
badnam sahi, lekin, gumnam nahi hota

has-has ke jawaan dil ke ham kyo n chune tukde?
har shakhs ki kismat me inaam nahi hota - Meena Kumari Naaz

Post a Comment Blogger

 
Top